Breaking News

प्रतिबंध के बावजूद डीडीसी समेत 6 लोगों ने की पूजा, भड़के तीर्थपुरोहित

Jul 29, 2021
कोरोना के सम्भावित तीसरे लहर को देखते हुए झारखंड सरकार द्वारा मंदिर नहीं खोलने का फैसला लिया गया।इधर फैसले के अनुरूप देवघर के विश्व प्रसिद्ध बाबा मंदिर में आम श्रद्धालुओं के लिए प्रवेश पूरी तरह प्रतिबंधित है सावन का महीना चल रहा है और इस दौरान देवघर आने वाले कई श्रद्धालु को बाबा मंदिर आम श्रद्धालु के लिए बंद कर कर वापस भेज दिया जा रहा है लेकिन यह पूरा सच नहीं है दरअसल बाबा मंदिर प्रशासन की व्यवस्था बेहद लचर है यहां भक्तों के लिए प्रवेश पर प्रतिबंध है लेकिन अधिकारियों के लिए पूरी तरह से छूट है ।
आगे पढ़ें...

सावन की पहली सोमवारी है प्रशासन द्वारा सख्ती बरते जाने के बाद देवघर में भक्तों का आना बंद

Jul 26, 2021
देवघर में आयोजित होने वाले श्रावणी मेला स्थगित है। लेकिन इससे भगवान भोले की अनुकंपा और यहां का धार्मिक महत्व कम नहीं होता। बिष्णु पुराण में वर्णित है की कलयुग में शिव की पूजा अर्चना करने से मुक्ति मिल जाती है। शिव १०८ नामो से जाने जाते है। श्रावण मास में ही समुद्र मंथन हुआ था और सोमवारी को ही एक बिशेष फल की प्राप्ति हुई थी। मंथन के पहली सोमवारी को ऐरावत हांथी की उत्पत्ति हुई थी।
आगे पढ़ें...

श्रावणी मेला के दौरान सुबह 4ः45 व संध्या में 7ः30 बजे से श्रद्धालु कर सकेंगे बाबा बैद्यनाथ का ऑनलाइन दर्शन

Jul 24, 2021
देवघर उपायुक्त मंजूनाथ भजंत्री द्वारा जानकारी दी गयी कि राजकीय श्रावणी मेला, 2021 का आयोजन बढ़ते संक्रमण व संभावित तीसरी लहर को लेकर स्थगित किया गया है। ऐसे मे देवतुल्य श्रद्धालुओं की आस्था व सुविधा को देखते हुए श्रावाण माह में बाबा बैद्यनाथ के दर्शन हेतु ऑनलाइन व्यवस्था सुनिश्चित की गयी है। इसको लेकर राज्य सरकार के वेबसाईट jhargov.tv के साथ देवघर उपायुक्त व पीआरडी देवघर के फेसबुक पेज व जिला प्रशासन के वेबसाईट deoghar.nic.in पर ऑनलाइन बाबा का दर्शन श्रद्धालु कर सकते हैं।
आगे पढ़ें...

बाबाधाम में श्रद्धालुओं के प्रवेश पर पाबंदी, डीसी, एसपी समेत प्रशासनिक अधिकारियों ने लिया जायजा

Jul 24, 2021
कोरोना के संभावित तीसरे लहर को देखते हुए सरकार द्वारा मंदिर नहीं खोलने का फैसला लिया गया है,ऐसे में सावन के महीने में उत्तरवाहिनी गंगा से जल भर कर देवघर की ओर रवाना होते हैं अब जब मंदिर बंद है तो श्रद्धालु मंदिर तक नहीं आ सके उसके लिए शनिवार के दिन देवघर उपायुक्त और पुलिस अधीक्षक ने मंदिर और शिवगंगा सरोवर के आसपास क्षेत्रों का निरीक्षण कर जायजा लिया।
आगे पढ़ें...

एनडीआरएफ कैम्प का उपायुक्त मंजूनाथ भजंत्री ने किया औचक निरीक्षण

Jul 24, 2021
श्रावणी मेला के हर सोमवारी को एनडीआरएफ की टीम मंदिर व उसके आस-पास के क्षेत्रों में करेगी माॅकड्रीलः-उपायुक्त देवघर उपायुक्त मंजूनाथ भजंत्री व पुलिस अधीक्षक धनंजय कुमार सिंह द्वारा भुरभुरा मोड़ स्थित एनडीआरएफ कैम्प का निरीक्षण कर वास्तुस्थिति का जायजा लिया। इस दौरान उपायुक्त ने एनडीआरएफ के अधिकारियों को निर्देशित किया कि श्रावणी मेला न होने की स्थिति में सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने के उद्देश्य से प्रत्येक सोमवार को मंदिर के आसपास के क्षेत्रों में मॉकड्रिल कर लोगों को कोविड नियमों के अनुपालन को लेकर जागरूक करेंगे।
आगे पढ़ें...

आज भक्ति-भाव से करें गुरु की पूजा, दीक्षा न ली हो तो भगवान विष्णु की करें आराधना

Jul 24, 2021
नई दिल्ली: आज (24 जुलाई, शनिवार) गुरु पूर्णिमा (Guru Purnima 2021) है। आदिगुरु महर्षि वेद व्यास (Maharshi Ved Vyas) की जन्म तिथि आषाढ़ महीने की पूर्णिमा को गुरु पूर्णिमा के तौर पर मनाते हैं। इस दिन लोग अपने गुरुओं की पूजा करके, उनका सम्मान करते हैं और उनका आशीर्वाद पाते हैं। गुरु के मार्गदर्शन से न केवल जीवन को सही दिशा मिलती है, बल्कि उनका आशीर्वाद व्यक्ति को सफल भी बनाता है। इतना ही नहीं यह भी कहा जाता है कि बना गुरु दीक्षा लिए व्यक्ति का जाप, पूजा-पाठ निष्फल रह जाता है।
आगे पढ़ें...

सावन में मंदिर के आसपास और रूटलाईन में 24 घण्टे कार्यरत रहेगा उड़नदस्ता दल

Jul 23, 2021
देवघर उपायुक्त मंजूनाथ भजंत्री की अध्यक्षता में त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था को लेकर जिले के वरीय अधिकारियों के साथ बैठक की गई।बता दें कि कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर के कारण श्रावणी मेला का आयोजन नहीं किया जा रहा है। श्रावणी मेला के आयोजन नहीं होने के कारण श्रद्धालुओं की भीड़ को देवघर पहुंचने से रोकने के लिए त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था के इंतजाम किए जा रहे हैं। इस त्रिस्तरीय सुरक्षा इंतजाम के तहत बड़े वाहनों को मंदिर के आसपास के क्षेत्रों में प्रवेश की इजाजत नहीं दी जायेगी। इसके अलावे झारखण्ड के दूसरे राज्यों से आने वाले वाहनों को बाहर से बाहर ही उनके गंतव्य स्थान तक भेजा जायेगा।
आगे पढ़ें...

बाबा धाम में भक्तों का प्रवेश रोकने के खिलाफ सांसद निशिकांत रहे एक दिन उपवास पर

Jul 23, 2021
देवघर: कोरोना के फेर में अबकी भी देवघर में सावन मेला नहीं लगेगा. राज्य सरकार ने इस संबंध में फैसला लिया है. संभावित तीसरी लहर के खतरे को रोकने की खातिर यह कदम उठाया गया है। इस पर सांसद ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर में संक्रमण से जूझ चुके लाखों लोगों ने बाबा भोलेनाथ से प्राणों की रक्षा करने की प्रार्थना की होगी और ठीक हो जाने पर सावन में उनका जलाभिषेक करने की मन्नत भी मांगी होगी लेकिन सरकार से अनुमति नहीं मिलने के कारण कांवरिया पथ पर इस बार भी बोल बम के जयकार नहीं गूजेंगे।
आगे पढ़ें...

श्रद्धालुओं के बाबाधाम प्रवेश पर रोक के लिए एसडीएम ने शिवगंगा व बाबा मंदिर प्रवेश द्वार का किया निरीक्षण, अधिकारियों को दिए कई विशेष दिशा निर्देश।

Jul 22, 2021
देवघर में आयोजित होने वाले विश्व प्रसिद्ध श्रावणी मेला पर सरकार ने कोविड- 19 के कारण रोक लगा दिया है।वही बाबा मंदिर पट श्रद्धालुओं के लिए बंद है।बावजूद सैकड़ो श्रद्धालु बाबा मंदिर के आसपास आ जा रहे है ।वही जानकारी के बाद श्रद्धालुओं को बाबा बैधनाथ धाम देवघर में प्रवेश पर रोक लगाने के लिए पूरी तरह से सक्रिय हो गई है । जिला प्रशासन आज से व्यवस्था को दुरुस्त करने का कार्य शुरू कर दिया है ।इसको लेकर देवघर के एसडीएम दिनेश कुमार यादव ने डीपीआरओ रवि कुमार व मंदिर प्रबंधक रमेश परिहस्त के साथ देवघर के शिव गंगा और सिंह दरवाजा सहित मंदिर के चारों दरवाजों का जायजा लिया । साथ ही बैरिकेडिंग के कार्य को और भी दुरुस्त करने के आदेश दिए गए हैं।
आगे पढ़ें...

तीसरी लहर को देखते हुए बाबा मंदिर में श्रद्धालुओं का प्रवेश वर्जित

Jul 20, 2021
देवघर उपायुक्त मंजूनाथ भजंत्री के निर्देशानुसार संभावित तीसरी लहर को लेकर केंद्र सरकार एव राज्य सरकार के आपदा प्रबंधन विभाग के आदेशानुसार श्रावण मास में की जाने वाली व्यवस्था को लेकर बैठक का आयोजन समाहरणालय सभागार में किया गया। इस दौरान कोरोना संक्रमण के रोकथाम और संभावित तीसरी लहर के साथ श्रद्धालुओं की स्वास्थ्य सुरक्षा को देखते हुए अन्य धार्मिक स्थलों के साथ-साथ बाबा मंदिर में भी श्रद्धालुओं के प्रवेश निषेध किया है। इसके अलावे संक्रमण मुक्त वातावरण के अलावा बाबा मंदिर के आस-पास के क्षेत्रों में विधि व्यवस्था और सुरक्षा व्यवस्था को लेकर विभिन्न बिंदुओ पर विस्तृत चर्चा करते हुए संबंधित अधिकारियों को आवश्यक व उचित दिशा निर्देश दिया गया।
आगे पढ़ें...

बिहार में बकरीद पर सामूहिक नमाज और सावन में मंदिर में पूजा पर रोक

Jul 20, 2021
PATNA: बिहार में कोरोना की तीसरी लहर की आशंकाओं के बीच सरकार ने एक बार फिर से सख्ती दिखानी शुरू कर दी है। नीतीश सरकार ने सावन और बकरीद जैसे मौके पर लोगों की भीड़ ना हो इसके लिए सख्त नियम बनाए हैं इन सख्त नियमों के तहत बकरीद के मौके पर जहां लोग सामूहिक रूप से नमाज नहीं पढ़ सकेंगे तो वहीं सावन के महीने में शिवालयों में होने वाली पूजा पर भी रोक लगाने का फैसला किया गया है। बकरीद को लेकर पटना के डीएम चंद्रशेखर सिंह ने सोमवार को पुलिस अधीक्षक और तमाम पदाधिकारियों के साथ बैठक की।
आगे पढ़ें...

बंगला सावन की शुरुआत श्रद्धालुओं की भीड़ पर नियंत्रण न के बराबर ऐसे में कैसे होगा कोरोना गाइडलाइंन का पालन

Jul 17, 2021
देवघर में बांगला सावन की शुरुआत हो गई है, ऐसे में श्रद्धालुओं की संख्या भी बाबा मंदिर में दर्शन के लिए उमड़ रही है, शनिवार को देवघर बाबा मंदिर बंद होने के कारण बाहरी गेट पर ही श्रद्धालुओं के पूजा अर्चना करने का सिलसिला जारी रहा, लेकिन सबसे बड़ा सवाल है कि जब सरकार के द्वारा जारी गाइडलाइंन के अनुसार किसी भी दूसरे राज्यों से आने वाली गाड़ी बॉर्डर पार नहीं कर सकते साथ ही बाहर से आने को कोरोना जाँच और सरकार द्वारा जारी गाइडलाइंन का पालन करना है तो ऐसे में कैसे चाहे वो दर्दमारा बॉर्डर हो या फिर बिहार से सटे सीमा पर वाहन पार कर बाबा मंदिर पहुंच रहे हैं।
आगे पढ़ें...

मुंडन की आखिरी तिथि होने के कारण देवनगरी देवघर में श्रद्धालुओं की उमड़ पड़ी भारी भीड़

Jul 16, 2021
देवघर, आस्था की नगरी देवघर जहां श्रावण माह में लाखों लाख श्रद्धालु जलार्पण करने के लिए पहुंचते हैं लेकिन विगत वर्ष से कोरोना के कारण श्रावणी मेला स्थगित कर दिया गया था, जिसके बाद इस वर्ष भी श्रावणी मेला पर संशय बरकरार है, वही आज मुंडन की आखिरी तिथि होने के कारण देवनगरी देवघर में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ पड़ी, हजारों हजार की संख्या में श्रद्धालु शिवगंगा में स्नान कर मंदिर की ओर बढ़ने लगे। वहीं श्रद्धालुओं का कहना है कि यहां से हमारी आस्था जुड़ी है मंदिर बंद है फिर भी यहां पहुंच जाने मात्र से ही मनोकामना पूर्ण होती है।
आगे पढ़ें...

जाने कैसे हुई महामृत्युंजय मंत्र की रचना ?

Jul 15, 2021
किसने की महामृत्युंजय मंत्र (Mahamrityunjaya Mantra) की रचना और जाने इसकी शक्ति ! शिवजी के अनन्य भक्त मृकण्ड ऋषि संतानहीन होने के कारण दुखी थे। विधाता ने उन्हें संतान योग नहीं दिया था। मृकण्ड ने सोचा कि महादेव संसार के सारे विधान बदल सकते हैं। इसलिए क्यों न भोलेनाथ को प्रसन्नकर यह विधान बदलवाया जाए। मृकण्ड ने घोर तप किया। भोलेनाथ मृकण्ड के तप का कारण जानते थे इसलिए उन्होंने शीघ्र दर्शन न दिया लेकिन भक्त की भक्ति के आगे भोले झुक ही जाते हैं। महादेव प्रसन्न हुए।उन्होंने ऋषि को कहा कि मैं विधान को बदलकर तुम्हें पुत्र का वरदान दे रहा हूं लेकिन इस वरदान के साथ हर्ष के साथ विषाद भी होगा।
आगे पढ़ें...

मलिक ने भगवान वाल्मीकि मंदिर में माथा टेका

Jul 14, 2021
अमृतसर : राज्यसभा सदस्य व पूर्व भाजपा प्रदेश अध्यक्ष श्वेत मलिक ने उत्तरी विधान सभा क्षेत्र के गंडा सिंह कालोनी, मजीठा रोड में भगवान वाल्मीकि मंदिर में माथा टेका। उन्होंने एक ओपन जिम व दो लाख रुपये राशि देने की घोषणा की। इस अवसर पर हरविदर सिंह संधू, श्रुति वि•ा, संजीव कुमार, अमन भनोट, कमल पहलवान, गुरशरण बिल्ला, लाडी , शक्ति कल्याण, मंदिर कमेटी के सदस्य व अन्य इलाक़ा निवासी उपस्थित थे।
आगे पढ़ें...


आज का पोल और पढ़ें...

फेसबुक पर लाइक करें

ट्विटर पर फॉलो करें


अन्य सभी ख़बरें पढ़ें...

मनोरंजन सभी ख़बरें पढ़ें...

खेल-जगत सभी ख़बरें पढ़ें...

व्यापार सभी ख़बरें पढ़ें...