Breaking News

नहीं घटा रेपो रेट, आम आदमी को नहीं मिली राहत

Garima Bharti | Nation1 Voice

Updated on : February 06, 2020


नहीं घटा रेपो रेट, आम आदमी को नहीं मिली राहत


डेस्क,नेसन वन वाइस: RBI ने रेपो दर में कोई बदलाव नहीं किया है. रेपो दर 5.15 फीसदी पर बरकरार रहेगी. इसलिए कर्ज लेने वालों को कोई राहत नहीं मिली है. इससे पहले पांच दिसंबर को भी मौद्रिक नीति समिति की बैठक में रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं किया गया था. बता दें कि केंद्रीय बैंक खुदरा महंगाई को ध्यान में रखते हुए प्रमुख नीतिगत दरों पर फैसला लेता है. 2019 में रेपो दर में कुल 135 आधार अंकों की कटौती हुई थी. नौ सालों में पहली बार रेपो रेट इतना कम है। मार्च, 2010 के बाद यह रेपो रेट का सबसे निचला स्तर है. वहीं, रिवर्स रेपो रेट 4.90 फीसदी पर बरकरार है. सीआरआर चार फीसदी पर है, एसएलआर 18.25 फीसदी और बैंक रेट 5.40 फीसदी पर.

साथ ही बैंक का अनुमान है कि वित्त वर्ष 2020-21 में देश की जीडीपी ग्रोथ छह फीसदी रहेगी. केंद्रीय बैंक का अनुमान है कि भविष्य में मुद्रास्फीति के उच्च बने रहने की आशंका है. वहीं, आगामी वित्त वर्ष की पहले छह महीने में वृद्धि दर 5.5 फीसदी से छह फीसदी रहने का अनुमान लगया है. जबकि, वित्त की तीसरी तिमाही में वृद्धि दर 6.2 फीसदी रहने का अनुमान है.

आरबीआई की मौद्रिक नीति समिति की बैठक चार फरवरी को शुरू हुई थी. इसमें रेपो रेट पर कोई फैसला करते समय खुदरा महंगाई को ध्यान में रखा जाता है, जो पांच फीसदी से ज्यादा पहुंच चुकी है.

पहले यह उम्मीद जताई जा रही थी कि साल 2019 में रेपो रेट के रिकॉर्ड पांच बार लगातार कटौती करने के बाद रिजर्व बैंक नए वित्त वर्ष की शुरुआत सख्त फैसलों के साथ कर सकता है. विश्लेषकों को अनुमान था कि 2020-21 में राजकोषीय घाटा बढ़ने के दबाव के कारण आरबीआई रेपो रेट में बढ़ोतरी कर सकता है. सरकार ने आगामी वित्त वर्ष के लिए राजकोषीय घाटे का लक्ष्य 3.5 फीसदी रखा है.

रेपो रेट वह दर होती है जिस पर आरबीआई बैंकों को कर्ज देता है. अगर रेपो रेट में कटौती का फायदा बैंक आप तक पहुंचाते हैं तो का आम लोगों को इससे फायदा होता है. ऐसा इसलिए क्योंकि आरबीआई द्वारा रेपो रेट घटाने से बैंकों पर ब्याज दरों में कटौती करने का दबाव रहता है. इससे लोगों को लोन सस्ते में मिलता है. हालांकि बैंक इसे कब तक और कितना कम करेंगे ये उन पर निर्भर करता है.



leave a comment

आज का पोल और पढ़ें...

फेसबुक पर लाइक करें

ट्विटर पर फॉलो करें


अन्य सभी ख़बरें पढ़ें...

मनोरंजन सभी ख़बरें पढ़ें...

खेल-जगत सभी ख़बरें पढ़ें...

व्यापार सभी ख़बरें पढ़ें...