Breaking News

जब कोई राजनेता सामने नहीं आया तो लाचारों की मदद करने आगे आए पप्पू यादव

Laxmi Azad | Nation1 Voice

Updated on : May 22, 2020


जब कोई राजनेता सामने नहीं आया तो लाचारों की मदद करने आगे आए पप्पू यादव


पटना: देश में लॉकडाउन की घोषणा के बाद से घर वापस जा रहे प्रवासी मजदूरों की दयनीय स्थिति की कई तस्वीरें सोशल मीडिया पर रोज वायरल हो रही हैं। ऐसी ही एक वायरल तस्वीर थी बेगूसराय जिले के रामपुकार पंडित की। फोन पर अपने परिवार से बात करते समय उनका फूट-फूटकर रोना वायरल हो गया था। लाखों लोगों ने यह तस्वीर शेयर की और अपनी संवेदना प्रकट की। इसमें कई राजनेता भी शामिल थे। लेकिन मदद को कोई आगे नहीं आया।

दूसरी वायरल वीडियो ज्योति कुमारी का था।अपने लाचार पिता को साइकिल पर बैठाकर हरियाणा के गुरुग्राम से बिहार के दरभंगा तक 7 दिनों में लगभग 1200 किलोमीटर का सफर तय किया था। इस वीडियो के आने के बाद भी सोशल मीडिया पर पलायन को लेकर एक बहस छिड़ गई थी। लेकिन इन दोनों गरीब मजदूरों किसी ने भी सहायता नहीं प्रदान कि

ऐसे में जन अधिकार पार्टी (लो) के राष्ट्रीय अध्यक्ष और मधेपुरा के पूर्व सांसद पप्पू यादव आगे आए और गुरुवार को रामपुकार की आर्थिक सहायता की। इस बात की जानकारी ट्विटर पर साझा करते हुए उन्होंने लिखा कि, "मैंने अभी तत्काल पांच हज़ार रुपये रामपुकार पंडित जी के एकाउंट में ट्रांसफर कर दिया है। उनसे बात हो जाएगी तो यथासंभव उनको और मदद कर देंगे। मेरी तरफ से कोई कमी नहीं रहेगी।" पप्पू यादव के निर्देश पर  बिहार की  बेटी ज्योति को जन अधिकार पार्टी (लो) के साथी डॉ मुन्ना खान जी द्वारा 20,000 रुपए मदद के तौर पार दी गयी। पप्पू यादव ने कहा कि  हम काम करने में विश्वास करते हैं। हमने इस बिटिया की मदद की बात कही थी और आज कर दिया।



leave a comment

आज का पोल और पढ़ें...

फेसबुक पर लाइक करें

ट्विटर पर फॉलो करें


अन्य सभी ख़बरें पढ़ें...

मनोरंजन सभी ख़बरें पढ़ें...

खेल-जगत सभी ख़बरें पढ़ें...

व्यापार सभी ख़बरें पढ़ें...