सुशील मोदी का तेजस्वी पर बड़ा हमला

Laxmi Azad | Nation1 Voice

Updated on : January 09, 2020


सुशील मोदी का तेजस्वी पर बड़ा हमला


पटना: कांग्रेस द्वारा तेजस्वी यादव को महागठबंधन का नेता मानने से इंकार करने के बाद बीजेपी को बोलने का मौका मिल गया है।पार्टी के वरिष्ठ नेता और बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा है कि ट्रविटर  ब्वाय के नेतृत्व में लोकसभा का चुनाव लड़ने पर पार्टी जीरो पर आ गई। लिहाजा अब उन्हें नेता मानने से कांग्रेस ने भी इनकार कर दिया है।

सुशील मोदी ने ट्वीट कर कहा कि राजद ने महागठबंधन के घटक दलों से राय लिए बिना 2020 के विधानसभा चुनाव के लिए जिन्हें सीएम- प्रत्याशी घोषित किया, उन पर किसी दल का विश्वास नहीं। वे पिछले 32 महीनों में विरोधी दल के नेता के रूप में कोई भरोसेमंद छवि नहीं बना सके। राजद के बड़े नेता चमकी बुखार और बाढ़ जैसी आपदा के समय जनता के बीच नहीं दिखे। सदन में जनहित का एक भी सवाल न पूछने वाले नेता केवल सोशल मीडिया  पर सक्रिय रहे। 

सुशील मोदी ने आगे कहा कि जिस पार्टी की सियासी सरपरस्ती मिलने से राजबल्लभ यादव और अरुण  यादव जैसे लोग विधायक बनने पर जनता की सेवा करने के बजाय गरीबों की नाबालिग बेटियों से बलात्कार जैसा अपराध करते हैं, उसे दूसरों को "महिला विरोधी" बताने से पहले अपना घर देखना चाहिए।  राजद के दो विधायक जब लालू परिवार की पीड़ित बहू के खिलाफ बयान देते हों, तब बिहार की आम बेटी-बहू इनसे क्या उम्मीद कर सकती है

डिप्टी सीएम ने कहा कि लालू परिवार में पावर वार के साथ-साथ तलाक और घरेलू हिंसा को लेकर दायर मुकदमों से भी राजद के युवराज की हताशा बढ़ी है।

दूसरी तरफ बिहार कांग्रेस ने क्लीयर कर दिया है कि तेजस्वी यादव महागठबंधन के नेता नहीं है।पार्टी के विधानमंडल दल के नेता सदानंद सिंह ने साफ किया है कि महागठबंधन का नेता कौन होगा यह तय नहीं है।जब तक सभी सहयोगी दल इस पर साथ बैठ कर बातचीत कर किसी निष्कर्ष पर नहीं पहुंचेंगे तब तक यह कैसे कहा जा सकता है कि हमारे गठबंधन का नेता कौन है।



leave a comment

आज का पोल और पढ़ें...

फेसबुक पर लाइक करें

ट्विटर पर फॉलो करें


मनोरंजन सभी ख़बरें पढ़ें...

खेल-जगत सभी ख़बरें पढ़ें...

व्यापार सभी ख़बरें पढ़ें...