Breaking News

कोविड-19: वैक्सीन बनाने में रूस का बाजी मारने का दावा, कहा- पूरी हो गई टेस्टिंग

Rahul Ranjan | Digital desk

Updated on : July 13, 2020
55499


कोविड-19: वैक्सीन बनाने में रूस का बाजी मारने का दावा, कहा- पूरी हो गई टेस्टिंग


रूस की सेकेनोफ़ यूनिवर्सिटी  में नये कोरोना वायरस की वैक्सीन का वॉलंटियर्स पर क्लीनिकल परीक्षण पूरा कर लिया गया है. यूनिवर्सिटी में इस परीक्षण की मुख्य शोधकर्ता इलीना स्मोलयारचुक  ने बताया कि परीक्षण में सामने आये रिजल्ट में टीका  प्रभावी सिद्ध भी हुआ है.

सेकेनोफ़ यूनिवर्सिटी में सेंटर फॉर क्लीनिकल रिसर्च ऑन मेडिकेशन की प्रमुख इलीना स्मोलयारचुक ने बताया, "रिसर्च पूरा कर लिया गया है और इससे साबित हुआ है कि वैक्सीन सुरक्षित है

वॉलंटियर्स को 15 जुलाई और 20 जुलाई को डिस्चार्ज कर दिया जायेगा." भारत में रूस के दूतावास ने इस संबंध में ट्वीट करते हुए इस बात की जानकारी दी और इसे कोविड-19 (Covid-19) के खिलाफ दुनिया की पहली वैक्सीन बताया.

यूनिवर्सिटी से डिस्चार्ज किए जाने के बाद वॉलंटियर्स को निगरानी में रखा जायेगा. इस यूनिवर्सिटी में जिस वैक्सीन का परीक्षण किया गया. वह पहले 18 जून को 18 वॉलंटियर्स के एक समूह को दी गई. जबकि वॉलंटियर्स के दूसरे समूह को यह वैक्सीन 23 जून को दी गई.

भारत में भी प्रथम कोरोना वैक्‍सीन तैयार कर ली गई है और यह ट्रायल के चरण में है. भारत के तीन मेडिकल ऑर्गेनाइजेशन्स ने मिल कर इस कार्य में सफलता हासिल कर ली है. इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR), नेशनल इंस्‍टीट्यूट ऑफ विरोलॉजी (National Institute of Virology) और भारत बायोटेक के संयुक्त प्रयास से कोवैक्सीन नाम की एक वैक्‍सीन को तैयार किया गया है.



leave a comment

आज का पोल और पढ़ें...

फेसबुक पर लाइक करें

ट्विटर पर फॉलो करें


अन्य सभी ख़बरें पढ़ें...

मनोरंजन सभी ख़बरें पढ़ें...

खेल-जगत सभी ख़बरें पढ़ें...

व्यापार सभी ख़बरें पढ़ें...